esim क्या है

 esim क्या है

आज के इस टॉपिक में हम बात करेंगे कि esim क्या है और इस सिंह की बेनिफिट क्या है दोस्तों अभी के समय में सभी कंपनियां जैसे कि एयरटेल जिओ वोडाफोन esim की तरफ बढ़ रही है इससे पहले आप को एयरटेल और जिओ की esim देखने को मिलती थी लेकिन अब इस इनकी सर्विस आपको वोडाफोन में भी देखने को मिल जाएगी भारत में esim  की सुविधा एयरटेल में ही था  और बहुत सी देश देशों में सभी कंपनियां काफी देर पहले से ही esim की सुविधा देती हैं लेकिन आज आपको अपने देश में इंडिया में भी esim की सुविधा काफी कंपनी के द्वारा मिल जाएगी  पहले क्या होता था कि हम लोगों को जिस कंपनी का सिम लेना होता था उस कंपनी के ऑफिस में जाना पड़ता था और इस कंपनी के द्वारा हमें फिजिकल सिम मिलता था जिससे हम कभी भी अपने फोन में लगा सकते थे और निकाल सकते थे उस सिम को हम टच कर सकते थे हम पकड़ सकते थे लेकिन इस सिम  को आप पकड़ नहीं सकते नहीं टच कर सकते हैं 

इसे भी जाने –

Android kya hai ?और यह कैसे काम करता है ?

esim full form ? esim का फुल फॉर्म क्या है ?

esim full form embedded-SIM (eSIM) or embedded universal integrated circuit card (eUICCई सिम का फुल फॉर्म होता है एंबेडेड सिम या एंबेडेड यूनिवर्सल इंटीग्रेटेड सर्किट कार्ड जिसे हम ई यू आई सी सी कार्ड भी कहते हैं अब क्या होता है दोस्तों की अब आपके जो फोन आ रहे हैं नई लांच होकर उन सभी फोन में आपको  eSIM support. देखने को मिल जाएगा कहने का मतलब है कि अब आपको smartphone में सिम नहीं लगाने की जरूरत पड़ेगी 

esim activation

esim activation करने के लिए आपको अपनी आईडी उस कंपनी के  स्टोर पर जाना पड़ेगा  जिस कंपनी के सिम को आप  यूज़ करना चाहते हैं चाहे airtel esim हो या तो jio esim या vodafone esim हो आप डायरेक्ट अपने फोन पर उस कंपनी का  नेटवर्क ले सकते हैं

 अब सिम लगाने की जरूरत जरूरत नहीं पड़ेगी और इसे आप कभी भी airtel , vodafone ,  या  jio में करवा सकते हैं इसके लिए आपको उन कंपनी के स्टोर पर अपना डॉक्यूमेंट देना पड़ेगा वंहा  पर आपको कोई भी सिम लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी जो कि पहले से ही आपके फोन के मदरबोर्ड में सिम लगी रहेगी और यह एक सॉफ्टवेयर की मदद से अपडेट हो जाया करेगी जिस कंपनी का आप सिम लेना चाहते हैं उस कंपनी के स्टोर पर आपको आईडी लेकर जाना पड़ेगा और फिर आपको एक  क्यूआर( QR) कोड स्कैन करना पड़ेगा और  आप उस कंपनी का नेटवर्क आपके फोन पर आए आ जाएगा जिस भी कंपनी का क्यूआर कोड आप अपने फोन में स्कैन करेंगे

इसे भी जाने –

Meesho app se paisa kaise kamaye

esim benefits ? esim के फायदे

 esim के फायदे पहले हमारे पास जो सिम होता था लगाने या  निकालने के चक्कर में हमारी वजह से खराब हो जाती थी दूसरी बात हम सिम को कहीं निकाल कर  रख  देते थे और सिम खो जाता  था  ऐसे में हमें इस चीज से तो छुटकारा मिल ही जाएगा बार-बार सिम निकाल लेने और लगाने या कहीं रखने से खोने से तो छुटकारा मिल जाएगा लेकिन इसके कुछ डिसएडवांटेज भी हैं esim के डिसएडवांटेज क्या है आइए जानते हैं

esim disadvantages

 दोस्तों esim आपकी फोन में ही रहेगा इसलिए यदि आपको कभी इमरजेंसी में जैसे कि फिजिकल सिम था तो और  आपके फोन में चार्जिंग नहीं है तो आप अपने किसी फ्रेंड के फोन में अपना सिम लगा कर के अपने  सिम से  कॉल कर सकते थे अपने ही नंबर से लेकिन  esim की वजह से आप  अपने फोन से सिम को नहीं निकाल सकते हैं चाहे कितनी भी अर्जेंट हो आपको अपने फोन में  चार्जिंग यदि रहेगा तो ही आप उससे कॉल कर सकते हैं यदि आपके फोन में चार्जनहीं  है और यदि आप चाहते हैं कि अपने फ्रेंड के फोन में सिम लगाकर यूज करना तो ऐसा तो हो नहीं सकता कभी भी तो इसकी कुछ डिसएडवांटेज है और भी इसकी  डिसएडवांटेज है

  जैसे कि यदि  आपके फोन का टच टूट  गया हो तो भी आप किसी को काल नहीं कर सकते है और यदि  आपकी फोन गुम हो गई ऐसे में आपको सबसे पहले अपने उस कंपनी के स्टोर पर जाना पड़ेगा जहां से आपने सिम लिया था फिर वहां से जाकर आपको सबसे पहले आपको अपने नंबर को esim को बंद करवाना पड़ेगा  फिर आप जब दूसरा फोन लेंगे तो फिर से आप अपने उसी नंबर को दोबारा स्टोर पर जा कर चालू करवा सकते है या  यूज कर सकते हैं इसकी यह कुछ बहुत ही महत्वपूर्ण महत्वपूर्ण डिसएडवांटेज है तो आशा करता हूं दोस्तों आपको समझ में आ गई होगी कि esim क्या है और यह कैसे काम करता है इसके फीचर्स क्या है और डिसएडवांटेज क्या हैतो दोस्तों आपको हमारा यह पोस्ट कैसा लगा आप हमें कमेंट में जरूर बताइए कि आपको हमारा पोस्ट कैसा लगा 

1 thought on “esim क्या है”

Leave a Comment